क्या पश्चिमी देशों में रहने वाले मुसलमान को चाँद देखने के लिए समिति गठित कर लेना चाहिए | जानने अल्लाह

क्या पश्चिमी देशों में रहने वाले मुसलमान को चाँद देखने के लिए समिति गठित कर लेना चाहिए

Site Team
Article translated to : 中文

क्या गैर-इस्लामी देशों में रहने वाले मुसलमानों के लिए एक ऐसी समिति गठित करना जायज़ है जो रमज़ान, शव्वाल और ज़ुल-हिज्जा के चाँद को साबित करे या ऐसा करना जायज़ नहीं है ?



हर प्रकार की प्रशंसा और गुणगान केवल अल्लाह के लिए योग्य है।

गैर-इस्लामी देशों में मौजूद मुसलमानों के लिए ऐसी समिति गठित करना जायज़ है जो रमज़ान, शव्वाल और ज़ुल-हिज्जा के चाँद को साबित करने की ज़िम्मेदारी निभाए।

Previous article Next article

Related Articles with क्या पश्चिमी देशों में रहने वाले मुसलमान को चाँद देखने के लिए समिति गठित कर लेना चाहिए

जानने अल्लाहIt's a beautiful day